Best 40+ [ Zakhm Shayari ], Zakhm Status In Hindi ( ज़ख्म शायरी 2 लाइन )

Zakhm Shayari के पोस्ट में आप पढ़ सकते है, Zakhm Shayari In Hindi, Zakhm Shayari 2 Line, Zakhm Status In Hindi, Zakhm Status 2 Line, के जबरजस्त कलेक्शन. जिसे आप पढ़कर इस पोस्ट के मजे उठा पायेंगे.

इस पोस्ट में आप पढ़े बेहतरीन ज़ख्म शायरी और स्टेटस के कलेक्शन को, और मजे उठाये हमारे Zakhm Shayari के पोस्ट का. और यदि आप हर प्रकार के शब्दों पर शायरी को पढना चाहते है तो आप हमारे Hindi Shayari के कलेक्शन को जरुर पढ़े.


Zakhm Shayari


1.
फिर कोई जख्म मिलेगा तैयार रह ऐ दिल,

कुछ लोग फिर पेश आ रहे है बहुत प्यार से.

Fir Koi Zakhm Milega Taiyar Rah Ae Dil,
Kuch Log Fir Pesh Aa Rahe Hai Bahut Pyar Se.


Zakhm Shayari In Hindi

2.
फूलों की चुभन पूछिये हमसे साहिब,

कांटों से जख्म तो दुनिया खाती है.

Phoolo Ki Chubhan Puchiye Hamse Saahib,
Kaato Se Zakhm To Duniya Khati Hai.


Zakhm Shayari In Hindi


3.
काश बनाने वाले ने दिल कांच के बनाये होते,

तोड़ने वाले के हाथ में ज़ख्म तो आये होते.

Kash Banane Vale Ne Dil Kaach Ke Banaye Hote,
Todane Vale Ke Hath Me Zakhm To Aaye Hote.


इन्हें भी पढ़े :- 30+ Udas Status Hindi ( उदास शयरी )


4.
तुमने तीर चलाया तो कोई बात न थी,

ज़ख्म मैंने जो दिखाया तो बुरा मान गए.

Tumane Teer Chalaya To Koi Baat Na Thi,
Zakhm Maine Jo Dikhaya To Bura Maan Gaye.


Zakhm Shayari 2 Line

5.
खंजर की क्या मज़ाल कि एक ज़ख्म कर सके,

लेकिन तेरी बेरुखी से मैं बार-बार घायल हुआ हूँ.

Khanjar Ki Kya Majaal Ki Ek Zakhm Kar Sake,
Lekin Teri Berukhi Se Mai Baar Baar Ghayal Hua Hu.


Zakhm Shayari 2 Line


6.
मरहम की ज़रूरत नही है मुझे,

ज़ख्म देकर कम से कम हाल तो पूछ लिया करो.

Marham Ki Jarurat Nahi Hai Mujhe,
Zakhm Dekar Kam Se Kam Haal To Puch Liya Karo.


7.
ज़ख्म ताज़ा हैं अभी यूँ न लगाओ मरहम,

दर्द बढ़ जाता है कुछ और भी सहलाने से.

Zakhm Taja Hai Abhi Yu Na Lagao Marham,
Dard Badh Jata Hai Kuch Aur Bhi Sahlane Se.


Zakhm Status In Hindi

8.
तुमने जो कभी जख्म के पौधे लगाए थे,

आके देखो उनमें अब बहुत से फूल आए हैं.

Tumane Jo Kabhi Zakhm Ke Paudhe Lagaye The,
Aake Dekho Uname Ab Bahut Se Phool Aaye Hai.


Zakhm Status In Hindi


9.
जो जख्म हमें अपनों से मिलते है,

सबसे ज्यादा तकलीफ वही देते है.

Jo Zakhm Hame Apano Se Milate Hai,
Sabase Jyada Taklif Vahi Dete Hai.


10.
जितने भी जख्म थे सबको सहलाने आये है,

वो माशुक खंजर के सहारे मरहम लगाने आये हैं.

Jirtane BhiZakhm The Sabko Sahlane Aaye Hai,
Vo Maashuk Khanzar Se Sahare Marham Lagane Aaye Hai.


11.
मैं जख्म खरीदता हूँ,

मोहब्बत के भाव में.

Mai Zakhm Kharidata Hu,
Mohabbat Ke Bhaav Me.


Best Zakhm Status In Hindi

12.
कौन कहता है कि मुसाफिर ज़ख्मी नही होते ?

रास्ते गवाह है, बस कमबख्त गवाही नही देते.

Kaun Kahta Hai Ki Musafir Zakhmi Nahi Hote,
Raste Gavaah Hai, Bas Kambakht Gavaahi Nahi Dete.


Best Zakhm Status In Hindi


13.
मुस्कराहट यूँ मेरे दिल के जख्मों को छुपा लेती है,

माँ जैंसे अपने बच्चों के ऐबों को सबसे छुपा लेती है.

Muskurahat Yu Mere Dil Ke Zakhmo Ko Chupa Lete Hai,
Maa Jaise Apane Bachho Ke Aido Ko Sabase Chupa Leti Hai.


इन्हें भी पढ़े :- 30+ Taqdeer Status ( तकदीर शायरी )


14.
किसी के ज़ख्म का मरहम, किसी के ग़म का ईलाज,

लोगो ने बाँट रखा है मुझे दवा की तरह.

Kisi Ke Zakhm Ka Marham Kisi Ke Gam Ka Ilaaz,
Logo Ne Baath Rakha Hai Mujhe Dava Ki Tarah.


Zakhm Status 2 Line

15.
दिए हैं ज़ख़्म तो मरहम का तकल्लुफ न करो,

कुछ तो रहने दो मेरी ज़ात पे एहसान अपना.

Diye Hai Zakhm To Marham Ka Takalluf Na Karo,
Kuch To Rahane Do Meri Jaat Pe Ahsaas Apana.


Zakhm Status 2 Line


16.
नए जख्म के लिए तैयार हो जा ए-दिल,

कुछ लोग बहुत प्यार से पेश आ रहे हैं.

Naye Zakhm Ke Liye Taiyar Ho Ja Ae-Dil,
Kuch Log Bahut Pyaar Se Pesh Aa Rahe Hai.


17.
बहुत तकलीफ देतें हैं वो जख्म,

जो बिना कसूर के मिले हो.

Bahut Taklif Dete Hai Vo Zakhm,
Jo Bina Kasoor Ke Mile Ho.


18.
ज़ख़्म दे कर ना पूछा करो दर्द की तुम शिद्दत,

दर्द तो दर्द होता हैं, थोड़ा क्या और ज्यादा क्या.

Zakhm De Kar Na Pucha Karo Dard Ki Tum Siddat,
Dard To Dard Hota Hai, Thoda Kya Aur Jyada Kya.


Zakhm Shayari Urdu


Zakhm Quotes In Hindi

19.
भर जाएंगे जब ज़ख़्म तो आऊंगा दोबारा,

मैं हार गया जंग मगर दिल नहीं हारा.

Bhar Jayenge Jam Zakhm To Aaunga Dobara,
Mai Haar Gaya Jang Magar Dil Nahi Hara.


20.
मेरी चाहत को मेरी हालत की तराजू में ना तोल,

मैंने वो ज़ख्म भी खाये जो मेरी तकदीर में नहीं थे.

Meri Chahat Ko Meri Halat Ki Taraju Me Na Tol,
Maine Vo Zakhm Bhi Khaye Jo Meri Taqdeer Me Nahi The.


21.
इक नया ज़ख़्म मिला एक नई उम्र मिली,

जब किसी शहर में कुछ यार पुराने से मिले. – कैफ़ भोपाली

Ek Naya Zakhm Mila Ek Nayi Umra Mili,
Jab Kisi Shahar Me Kuch Yaar Purane Se Mile.


Zakhm Shayari In Hindi Font


22.
बैठ कर उदास लम्हों में ये सोचता हूँ,

दुश्मनी भी नही किसी से फिर ज़ख्म गहरे क्यों हुए.

Baith Kar Udas Lamho Me Ye Sochta Hu,
Dushmani Bhi Nahi Kisi Se Fir Zakhm Gahare Kyo Huye.


23.
ए इश्क मुझको कुछ और जख्म चाहियें,

अब मेरी शायरी में वो बात नहीं रही.

Ae Ishq Mujhako Kuch Aur Zakhm Chahiye,
Ab Meri Shayari Me Vo Baat Nahi Rahi.


इन्हें भी पढ़े :- 20+ Tamanna Status ( तमन्ना पर शायरी )


Purane Zakham Shayari

24.
जख्म कहां कहां से मिले हैं, छोड़ो इन बातों को,

जिंदगी तू तो यह बता, सफर कितना बाकी है.

Zakhm Kaha Kaha Se Mile Hai, Choro In Baato Ko,
Zindagi Tu To Yah Bata, Safar Kitna Baki Hai.


Zakhm Quotes In Hindi


25.
हमे क्या ज़ख्म सताएगा, दर्द रुलायेगा

हम होठों से लगा कर गम, परेशानियां धुंए में उड़ाते हैं.

Hame Kya Zakhm Rulayega, Dard Rulayega,
Ham Hotho Se Laga Kar Gam, Pareshaniya Dhuye Me Udaate Hai.


26.
ज़ख्म पे ज़ख्म दिया उसने,

हर एक सितम किया उसने,
हम खुद देने को तैयार थे,
रंजिश से दिल को क्यों छीन लिया उसने.

Zakhm Pe Zakhm Diya Usane,
Har Ek Sitam Kya Usane,
Ham Khud Dene Ko Taiyar The,
Ranjish Se Dil Ko Kyu Chhin Liya Usane.


27.
जख्म खरीद लाया हूँ बाजार- ए- दर्द से,

दिल जिद कर रहा था मुझे मोहब्बत चाहिए.

Zakhm Kharid Laya Hu Bazar-Ae-Dard Se,
Dil Zidd Kar Raha Tha Mujhe Mohabbat Chahiye.


Purane Zakham Shayari


28.
जितना छिड़का है तूने ज़ख़्मों पे,

उतना खाया नही नमक तेरा.

Jitna Chidka Hai Tune Zakhmo Pe,
Utna Khaya Nahi Namak Tera.


29.
मरहम न सही एक जख्म ही दे दो,

महूसस तो हो के कोई हमें भुला नही.

Marham Na Sahi Ek Zakhm Hi De Do, Mahsus
Mahsus To Ho Ke Koi Hame Bhula Nahi.


30.
ए इश्क मुझको कुछ और जख्म चाहिये,

अब मेरी शायरी में वो बात नहीं रही.

Ae Ishq Mujhako Kuch Aur Zakhm Chahiye,
Ab Meri Shayari Me Tha Vo Baat Nahi Rahi,


Zakhm Par Shayari


31.
तुझसे अच्छे तो जख्म हैं मेरे,

उतनी ही तकलीफ देते हैं जितनी बर्दास्त कर सकूँ.

Tujhase Achhe To Zakhm Hai Mere,
Utani Hi Taklif Dete Hai Jirtani Bardast Kar Saku.


32.
जब लगा था तीर तब इतना दर्द न हुआ,

ज़ख्म का एहसास तब हुआ जब कमान देखी अपनों के हाथ में.

Jab Zakhm Tha Tir Tan Itana Dard Na Hua,
Zakhm Ka Ahsaas Tab Hua Jab Kamaan Dekhi Apano Ke Hath Me.


33.
न ज़ख्म भरे, न शराब सहारा हुई,

न वो वापस लौटीं, न मोहब्बत दोबारा हुई.

Na Zakhm Bhare, Na Sharab Sahara Hauyi,
Na Vo Vaapas Lauti, Na Mohabbat Dobara Huyi.


Dil Ke Zakhm Shayari


34.
किसी के दर्द की दवा बनो,

जख्म तो हर इन्सान देता है.

Kisi Ke Dard Ki Dava Bano,
Zakhm To Har Insan Deta Hai.


इन्हें भी पढ़े :- 30+ Shak Status In Hindi Images


35.
ज़ख़्मों के बावजूद मेरा हौसला तो देख,

तू हँसी तो मैं भी तेरे साथ हँस दिया.

Zakhmo Ke Baavazud Mera Hausla To Dekh,
Tu Hasi To Mai Bhi Tere Sath Has Diya.


36.
किसी के ज़ख़्म पर चाहत से पट्टी कौन बांधेगा,

अगर बहनें नहीं होंगी तो राखी कौन बांधेगा ?

Kisi Ke Zakhm Par Chahat Se Patti Kaun Bandhega,
Agar Bahane Nahi Hogi To Rakhi Kaun Bandhega ?


Zakhm Shayari In English


37.
जख्म दे कर ना पूछ करो,

दर्द की शिस्त, दर्द तो दर्द होता हैं, थोड़ा क्या,ज्यादा क्या !

Zakhm De Kar Na Kuch Karo,
Dard Ki Siddat, Dard To Dard Hota Hai, Thoda Kya, jyada Kya !


38.
शायद अब ये जुदाई का ज़ख्म भर नहीं सकता,

तुम कुछ कर नहीं सकते मैं कुछ कर नहीं सकता.

Shayad Ab Ye Judayi Ka Zakhm Bhar Nahi Sakta,
Tum Kuch Kar Nahi Sakte Mai Kuch Kar Nahi Sakta.


39.
अपने सितम को देख लेना खुद ही साक़ी तुम,

ज़ख्म-ऐ -जिगर तुमको दिखायेगें किसी रोज़.

Apane Sitam Ko Dekh Lena Khud Hi Saki Tum,
Zakhm-Ae-Zigar Tumako Dikhaoge Kisi Roz.


Final Word :- 

आशा करता हु कि आपको हमारा Zakhm Shayari का पोस्ट जरुर पसंद आया होगा, इसी तरह के और शायरियों को पढ़ने के लिए आप हमारे और भी पोस्ट को जरुर पढ़े.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *