Musafir Shayari – Best 10+ Musafir Status In Hindi ( मुसाफिर शायरी )

Musafir Shayari के पोस्ट में आप पढ़े Musafir Shayari In Hindi, Musafir Shayari 2 Line, Musafir Status In Hindi, Musafir Status 2 Line के बेजोड़ कलेक्शन को, जहा पर आप शेरो-शायरियों के और भी मजे ले पाएंगे.

इस पोस्ट में आप पढ़े बेहतरीन मुसाफिर शायरी और स्टेटस के कलेक्शन को, और मजे उठाये हमारे Musafir Shayari के पोस्ट का. और यदि आप हर प्रकार के शब्दों पर शायरी को पढना चाहते है तो आप हमारे Hindi Shayari के कलेक्शन को जरुर पढ़े.


Musafir Shayari


1.
मुसाफ़िर हैं हम भी मुसाफ़िर हो तुम भी,

किसी मोड़ पर फिर मुलाक़ात होगी. बशीर बद्र

Musafir Hai Ham Bhi Musafir Ho Tum Bhi,
Kisi Mod Par Fir Mulakat Hogi.


Musafir Shayari In Hindi

2.
मुसाफ़िरों से कहो अपनी प्यास बाँध रखें,

सफ़र की रूह में सहरा कोई उतर चुका है.

Musafiro Se Kaho Apani Pyaas Baandh Rakhe,
Safar Ki Rooh Me Sahra Koi Utar Chuka Hai.


Musafir Shayari In Hindi


3.
रह गए हम दूर मंज़िल से आज तलक प्यार की,

मगर ऐ दोस्त, मुसाफ़िरी सीख गए हम बखूब जिंदगी की.

Rah Gaye Ham Dur Manzil Se Aaj Talak Pyar Ki,
Magar Ae Dost, musafiri Sikh Gaye Ham Bakhub Zindagi Ki.


इन्हें भी पढ़े :- 10+ Lafz Status ( लफ्ज़ पर शायरी )


4.
दिल अजब शहर कि जिस पर भी खुला दर इस का,

वो मुसाफ़िर इसे हर सम्त से बर्बाद करे.

Dil Ajab Shahar Ki Jis Par Bhi khula Dar Is Ka,
Vo Musafir Ise Har Samt Se Barbaad Kare.


Musafir Status In Hindi

5.
आँखों में रहा दिल में उतरकर नहीं देखा,

कश्ती के मुसाफ़िर ने समन्दर नहीं देखा.

Aankho Me Raha Dil Me Utarkar Nahi Dekha,
Kashti Ke Musafir Ne Samandar Nahi Dekha.


Musafir Status In Hindi


6.
ग़म तेरी बेवफ़ाई में, कुछ इस क़दर मिल गया,

चलता मुसाफ़िर था मैं, जिंदगी का रास्ता भूल गया.

Gam Teri Bewafayi Me, kuch Is Kadar Mil Gaya,
Chlta Musafir Tha Mai, Zindagi Ka Rasta Bhul Gaya.


7.
वो दुख नसीब हुए ख़ुद-कफ़ील होने में,

कि उम्र कट गई ख़ुद की दलील होने में.

Vo Dukh Naseeb Hue Khud Wakil Hone Me,
Ki Umra Kat Gayi Khud Ki Dali Hone Me.


Musafir Shayari Urdu


Musafir Status

8.
दिन को भी इतना अंधेरा है मेरे कमरे में,

साया आते हुए डरता है मेरे कमरे में.

Din Ko Bhi Itana Andhera Hai Mere Kamre Me,
Saya Aate Hue Darta Hai Mere Kamre Me.


9.
है कोई जो बताए शब के मुसाफ़िरों को,
कितना सफ़र हुआ है कितना सफ़र रहा है. शहरयार

Hai Koi Jo Bataye Shab Ke Musafiro Ko,
Kitna Safar Hua Hai Kitna Safar Raha Hai.


10.
क्यूँ चलते चलते रुक गए वीरान रास्तो,

तन्हा हूँ आज मैं ज़रा घर तक तो साथ दो. – आदिल मंसूरी

Kyu Chalte Chalte Ruk Gaye Veeran Rasto,
Tanha Hu Aaj Mai Jara Ghar Tak To Sath Do.


इन्हें भी पढ़े :10+ Musibat Status ( मुसीबत शायरी )


Musafir Shayari Urdu

11.
फ़ासले ही फ़ासले थे मंज़िलें ही मंज़िलें,

हम-सफ़र कोई न था और रहनुमा कोई न था.

Fasle Hi Fasle The Manzile Hi Manzile,
Ham Safar Koi Na Tha Aur Rahnuma Koi Na Tha.


Kashti Ke Musafir Shayari


12.
मैं मुसाफिर हूँ, खताएं भी हुई हैं मुझ से,

तुम तराज़ू में मेरे पांव के छाले रखना.

Mai Musafir Hu khataye Bhi Huyi Hai Mujh Se,
Tum Taraju Me Mere Paav Ke Chale Rakhna.


13.
मन्नत मांग कर लौट रहे थे हम मंदिर से,

रास्ते में तुम मिल गई और दुआ कबूल हुई.

Mannat Maang Kar Laut Gaye Mandir Se,
Raste Me Tum Mil Gayi Aur Dua Kabul Huyi.


Raat Ke Musafir Shayari


Kashti Ke Musafir Shayari

14.
मुसाफ़िर हैं हम भी मुसाफ़िर हो तुम भी,

किसी मोड़ पर फिर मुलाक़ात होगी.

Musafir Hai Ham Bhi Musafir Ho Tum Bhi,
Kisi Mod Par Fir Mulaqat Hogi.


15.
कुछ टूटे फटे सीने को साथ अपने सफ़र में,

क्या वो भी मुसाफ़िर जो न रक्खे सुई तागा. – मुसहफ़ी ग़ुलाम हमदानी

Kuch toote Fate Seene Ko Sath Apane Safar Me,
Kya Vo Bhi Musafir Jo Na Rakhhe Suyi Taaga.


16.
मैंने चांद और सितारों की तमन्ना की थी,

मुझ को रातों की सियाही के सिवा कुछ न मिला.

aine Chaand Aur Sitaaro Ki Tamanna Ki Thi,
Mujh Ko Raato Ki Siyaahi Ke Siva Kuch Na Mila.


Musafir Caption For Instagram In Hindi


17.
हम तेरे शहर में आए हैं मुसाफिर की तरह,

सिर्फ़ इक बार मुलाक़ात का मौका दे दे.

Ham Tere Shahar Me Aaye Hai Musafir Ki Tarah,
Sirf Ek Baar Mulaqat Ka Mauka De De.


18.
सफ़र का एक नया सिलसिला बनाना है,

अब आसमान तलक रास्ता बनाना है. – शहबाज़ ख़्वाजा

Safar Ka Ek Naya Silsila Banana Hai,
Ab Aasmaan Talak Rasta Banana Hai.


इन्हें भी पढ़े :- 30+ Aawaz Status In Hindi ( आवाज शायरी )


19.
जो भटक जाए अपनी मंज़िल से,

मैं मुसाफ़िर ही ऐसा बन बैठा.

Jo Bhatak Jaye Apani Manzil Se,
Mai Musafir Hi Aisa Ban Baitha.


Musafir Shayari Facebook


20.
मुसाफ़िरों से मोहब्बत की बात कर लेकिन,

मुसाफ़िरों की मोहब्बत का एतबार न कर.

Musafiro Se Mohabbat Ki Baat Kar Lekin,
Musafiro Ki Mohabbat Ka Aetbaar Na Kar.


21.
मैं भी मुसाफिर हूँ तेरी कश्ती का ए ज़िन्दगी,

तू जहा मुझसे कहेगी, मैं वही उतर जाऊंगा.

Mai Bhi Musafir Hu Teri Kasahti Ka Ae Zindagi,
Tu Jaha Mujhase Kahegi, Mai Vahi Utar Jaunga.


Final Word :- 

आशा करता हु कि आपको हमारा Musafir Shayari का पोस्ट जरुर पसंद आया होगा, इसी तरह के और शायरियों को पढ़ने के लिए आप हमारे और भी पोस्ट को जरुर पढ़े.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *