Gulzar Shayari In Hindi 2021 Best 70+ ( गुलज़ार शायरी 2 लाइन ) Gulzar Status In Hindi

Gulzar Shayari In Hindi के पोस्ट में आपको पढने को मिलेगा Gulzar Status In Hindi, Gulzar Shayari On Life In Hindi, Gulzar Shayari In Hindi 2 Lines के बेजोड़ कलेक्शन और ढेर सारे गुलज़ार स्टेटस और शायरी और भी बहुत कुछ हिंदी में.

जन्म :-
मशहूर शायर सम्पूर्ण सिंह कालरा उर्फ़ गुलज़ार जी का जन्म 18 अगस्त 1936 में दीना के झेलम जिला, पंजाब में हुआ था. इनके पिता जी का नाम माखन सिंह कालरा और माता जी का नाम सुजान कौर था, वह अपने पिता की दूसरी पत्नी के एकलौते संतान थे.

करियर :-
गुलज़ार साहब जी का हिंदी सिनेमा में करियर बतौर एक गीत लेखक ( एस डी बर्मन ) की फिल्म बंधिनी द्वारा शुरू हुआ. इन्होने साल 2007 में उन्होंने हॉलीवुड फिल्म स्लमडॉग मिलेनियर का गाना जय हो लिखा. इस फिल्म के लिए उन्हें ग्रैमी अवार्ड से भी सम्मानित किया गया. उन्होंने अपने निर्देशनो में कई ऐसी बेहतरीन फ़िल्में दर्शकों को दी हैं, जिन्हे दर्शक आज भी बड़े रोमांच के साथ देखना पसंद करते हैं.

गीत लेखन :-
मशहूर शायर गुलज़ार जी ने कई गीत लेखन लिखे है जो की हमारे मन को हर्षौल्लास से भर देता है जिनमे से कुछ प्रमुख गीतो के नाम इस प्रकार है :-
दिल से
इजाजत
ओमकारा
आँधी
दूसरी सीता

सम्पूर्ण सिंह कालरा उर्फ़ गुलज़ार साहब द्वारा लिखे गए गज़ले, शायरिया, कोट्स गीतों के नग्मे आज भी उसे हर कोई अपने होठो पर गुनगुनाता रहता है. आज भी गुलज़ार साहब हम सभी लोगो के मन और दिलो पर राज़ करते है, हम आज इन्ही महान शायर द्वारा लिखित चन्द शेरो-शायरियाँ आपके सामने प्रस्तुत करने जा रहे है.

Gulzar Shayari In Hindi

1.
कौन कहता है कि हम झूठ नहीं बोलते,
एक बार तुम खैरियत पूछ कर तो देखो.

Kaun Kahta Hai ki Ham Jhooth Nahi Bolte,
Ek Baar Tum Khairiyat Puch Kar To Dekho.


Gulzar Shayari

2.
याद आएगी हर रोज़ मगर तुझे आवाज़ ना दूँगा,
लिखूँगा तेरे ही लिए हर ग़ज़ल मगर तेरा नाम ना लूँगा.

Yaad Aayegi Har Roz Magar Tujhe Aawaaz Na Dunga,
Likhunga Tete Hi Liye Gazal Magar Tera Naam Na Dunga.


3.
मोहब्बत और इज़्ज़त इतनी मत देना कि,
वो आपकी कदर ही भूल जाये.

Mohabbat Aur Izzat Itani Mat Dena Ki,
Vo Aapaki Kadar Hi Bhool Jaye.


4.
महफ़िल में गले मिलकर वह धीरे से कह गए,
यह दुनिया की रस्म है, इसे मोहब्बत मत समझ लेना.

Mahfil Me Gale Milkar Vah Dheere Se Kah Gaye,
Yah Duniya Ki Rasm Hai, Ise Mohabbat Mat Samajh Lena.


इन्हें भी पढ़े :- Best 80+ Alone Shayari In Hindi 2021

5

5.
हम अपनी हिचकियो में वफाई ढूंढ रहे थे,
कम्बखत दो घूंट पानी मे गुम हो गयी.

Ham Apani Hichkiyo Me Wafai Dhundh Rahe The,
Kambakht Do Ghoot Me Gum Ho Gayi.


6.
जिस की आँखों में कटी थी सदियाँ,
उस ने सदियों की जुदाई दी है.

Jis Ki Aankho Me Kati Thi Sadiya,
Us Ne Sadiyo Ki Judai Di Hai.


6.
बहुत अंदर तक जला देती हैं,
वो शिकायते जो बया नहीं होती.

Bahut Andar Tak Jala Deti Hai,
Vo Shikayte Jo Bayaan Nahi Hoti.


7.
सच को तमीज ही नही बात करने की¸
झूठ को ‍देखो कितना मीठा बोलता है.

Sach Ki Tameez Hi Nahi Baat Karne Ki,
Jhooth Ko Dekho Kitna Meetha Bolta Hai.


Gulzar Shayari In Hindi

Gulzar Shayari On Life in Hindi

8.
अपने साए से चौंक जाते हैं,
उम्र गुज़री है इस क़दर तन्हा.

Apane Saye Se Chauk Jate Hai,
Umra Gujari Hai is Kadar Tanha.


9.
यूँ भी इक बार तो होता कि समुंदर बहता
कोई एहसास तो दरिया अदा का होता.

Yu Bhi Ek Baar To Hota Ki Samundar Bahta,
Koi Ehsaas To Dariya Ki Ada Ka Hota.


10.
कभी जिंदगी एक पल में गुजर जाती हैं,
और कभी जिंदगी का एक पल नहीं गुजरता.

Kabhi Zindagi Ek Pal Me Gujar Jati Hai,
Aur Kabhi Zindagi Ka Ek Pal Nahi Gujarta.


11.
उसने कागज की कई कश्तिया पानी में उतारी और,
ये कह के बहा दी कि समन्दर में मिलेंगे.

Us Ne Kaagaj Ki kai kashtiya Pani Me Utaari Aur,
Ye Kah ke Baha Di Ki Samandar Me Milenge.


12 4

12.
लोग कहते है कि खुश रहो,
मगर मजाल है की रहने दे.

Log Kahte Hai Ki Khush Raho,
Magar Majaal hai ki Rahane De.


Gulzar Shayari On Life in Hindi

12.
फर्क था हम दोनों की मोहब्बत में
मुझे उससे ही थी उसे मुझसे भी थी.

Fark Tha Ham Dono Ki Mohabbat Me,
Mujhe Usase Hi Thi Yse Mujhase Bhi Thi.


13.
कब आते हो कब जाते हो,
दिन में कितनी-कितनी बार मुझको तुम याद आते हो.

Kab Aate Ho Kab Jate Ho,
Din Me Kitani-Kitani Baar Mujhako Tum Yaad Aate Ho.


14.
वो उम्र कम कर रहा था मेरी,
मैं साल अपने बढ़ा रहा था.

Vo Umra Kam Raha Tha Meri,
Mai Saal Apane Badha Raha Tha.


15 3

15.
कुछ जख्मो की उम्र नहीं होती हैं,
ताउम्र साथ चलते हैं, जिस्मो के ख़ाक होने तक.

Kuch Zakhmo Ko Umra Nahi Hoti Hai,
Taaumra Sath Chalte Hai, Zismo Ke Khaak Hone Par.


16.
ज्यादा कुछ नहीं बदलता उम्र के साथ,
बस बचपन की जिद्द समझौतों में बदल जाती हैं.

Jyaada Kuch Nahi Badalta Umra Ke Baad,
Bas Bachpan Ki Zidd Samjhaute Me Badal Jati Hai.


17.
तेरे जाने से तो कुछ बदला नहीं,
रात भी आयी और चाँद भी था, मगर नींद नहीं.

Tere Jane Se To kuch Badla Nahi,
Raati Bhi Aayi Aur Chaand Bhi Tha, Magar Neend Nahi.


इन्हें भी पढ़े :- Best 50+ ( ख्याल शायरी 2 लाइन ) Khyaal Status In Hindi

18.
कोई ख़ामोश ज़ख़्म लगती है,
ज़िंदगी एक नज़्म लगती है.

Koi Khamosh Zakhm Lagti Hai,
Zindagi Ek Nazm Lagti Hai.


Gulzar Shayari In Hindi 2 Lines

Gulzar Shayari On Mohabbat

19.
तेरे बिना ज़िन्दगी से कोई शिकवा तो नहीं,
तेरे बिना ज़िन्दगी भी लेकिन ज़िन्दगी तो नहीं.

Tere Bina Zindagi Se Koi Shikva To Nahi,
Tere Bina Zindagi Bhi Lekin Zindagi To Nahi.


20.
मुझे ऐसे मरना है,
जैसे लिखते-लिखते स्याही ख़त्म हो जाए.

Mujhe Aise Marna Hai,
Jaise Likhte-Likhte Syaahi Khatm Ho Jaye.


21.
कुछ शिकायत बनी रहे तो बेहतर है,
चाशनी में डूबे रिश्ते‍‍‍ वफादार नही होते.

Kuch Shikaayte Bani Rahe To Behtar Hai,
Chaashni me Doobe Rishte Wafadar Nahi Hote.


22.
बहुत छाले हैं उसके पैरों में,
कमबख्त उसूलो पर चला होगा.

Bahut Chhaale Hai Usake Pairo Me,
Kambakht Usoolo Par Chala Hoga.


Gulzar Shayari Love In Hindi

23.
हम ने अक्सर तुम्हारी राहों में,
रुक कर अपना ही इंतिज़ार किया.

Ham Ne Aksar Tumhari Raaho Me,
Ruk Kar Apana Hi Intajaar Kiya.


24.
ज़िंदगी पर भी कोई ज़ोर नहीं,
दिल ने हर चीज़ पराई दी है.

Zindagi Pe Bhi Koi Jor Nahi,
Dil Ne Har Cheez Parayi Di Hai.


25.
अपने साये से चौंक जाते हैं,
उम्र गुजरी है इस क़दर तनहा.

Apane Saaye Se Chauk Jate Hai,
Umra Gujari Hai Is Tarah Tanha.


Gulzar Shayari On Mohabbat

Gulzar Shayari On Ishq

26.
सहमा सहमा डरा सा रहता है,
जाने क्यूं जी भरा सा रहता है.

Sahma Sahma Dara Sa Rahta Hai,
Jane Kyu Zee Bhar Sa Rahta Hai.


27.
मिल गया होगा कोई गजब का हमसफ़र,
वरना मेरा यार यूँ बदलने वाला नहीं था.

Mil Gaya Koi Gajab Ka Humsafar,
Varna Mera Yaar tu Badalne Vala Nahi Tha.


28.
आइना देख कर तसल्ली हुई,
हम को इस घर में जानता है कोई.

Aaina Dekh Kar Tasalli Huyi,
Ham Ko Is Ghar Me Janta Hai Koi.


29.
कोई न कोई रहबर रास्ता काट गया,
जब भी अपनी राह चलने की कोशिश की.

Koi Na Koi Rahbar Rasta Kaata Gaya,
Jab Bhi Apani Raah Chalne Ki Koshish Ki.


30 4

30.
एक ही ख़्वाब ने सारी रात जगाया है,
मैंने हर करवट सोने की कोशिश की.

Ek hi Khwaab Ne Sari Raat Jagaya Hai,
Maine Har Karvat Sone Ki Koshish Ki.


31.
हाथ छुटे भी तो रिश्ते नहीं छोड़ा करते,
वक्त की शाख से लम्हें नहीं तोडा करते.

Hath Chuute Bhi To Rishte Nahi Choda Karte,
Waqt Ki Shaakh Se Lamhe Nahi Toda Karte.


इन्हें भी पढ़े :- Best 50+ ( खुशबू शायरी 2 लाइन ), Khushabu Status In Hindi

32.
कोई पुछ रहा हैं मुझसे मेरी जिंदगी की कीमत,
मुझे याद आ रहा है तेरा हल्के से मुस्कुराना.

Koi Puch Raha Hai Mujhase Meri Zindagi Ki Keemat,
Mujhe yaad Aa Raha Hai tera Halke Se Muskurana.


33 1

33.
नज़र झुका के उठाई थी जैसे पहली बार,
फिर एक बार तो देखो मुझे उसी नज़र से.

Nazar Jhuka Ke Uthayi Thi Jaise Pahali Baar,
Fir Ek Baar To Dekho Mujhe Usi Nazar Se.


Gulzar Shayari On Life In Hindi Font

34.
वक़्त भी हार जाते हैं कई बार ज़ज्बातों से,
कितना भी लिखो, कुछ न कुछ बाकी रह जाता है.

Waqt Bhi Haar Jata Hai Kai Baar Jazbaato Se,
Kitna Bhi Likho, Kuch na Kuch Baaki Rah Jata Hai.


35.
जीवन से लंबे हैं बंधु, ये जीवन के रास्ते
एक पल थम के रोना होगा, एक पल चलना हँस के.

Jivan Se Lambe Hai Bandhi, Ye Jivan Ke Raste,
Ek Pal Tham Ke Rona Hoga, Ek Pal Chalna Has Ke.


Gulzar Shayari On Dosti

36.
कभी तो चौंक के देखे कोई हमारी तरफ,
किसी की आँख में हम को भी इंतज़ार दिखे.

Kabhi To Chauk Ke Dekhe Koi Hamari Taraf,
Kisi Ki Aankh me Ham Ko Bhi Intajaar Dikhe.


37.
गुलाम थे तो हम सब हिंदुस्तानी थे,
आज़ादी ने हमें हिन्दू मुसलमान बना दिया.

Gulaam The To Ham Sab Hindustani The,
Aazaadi Ne Hame Hindu Musalman Bana Diya.


38.
छोटा सा साया था, आँखों में आया था,
हमने दो बूंदों से मन भर लिया.

Chota Sa Saya Tha, Aankho Me Aaya Tha,
Hamne Do Bundo Se Man Bhar Liya.


39 1

39.
तेरी चुप्पी गर तेरी कोई मज़बूरी है,
तो रहने दे इश्क़ कौन सा जरुरी है.

Teri Chuppi Gar Koi Majburi Hai,
To Rahane De Ishq Kaun Sa Jaroori Hai.


40.
ख़ुशबू जैसे लोग मिले अफ़्साने में,
एक पुराना ख़त खोला अनजाने में.

Khushbu Jaise Log Mile Afsane Me,
Ek Purana Khat Khola Anjane Me.


41.
पलक से पानी गिरा है, तो उसको गिरने दो,
कोई पुरानी तमन्ना, पिंघल रही होगी.

Palak Se Pani Gira Hai, To Usako Girne Do,
Koi Purani Tamanna, Pighal Rahi Hogi.


Zindagi Gulzar Hai Shayari In Hindi

Zindagi Gulzar Hai Shayari

42.
नाराज़ हमेशा खुशियाँ ही होती है,
ग़मों के इतने नखरे नहीं है.

Naraz Hamesha Khushiya Hi Hoti Hai,
Gamo Ke Itane Nakhare Nahi Hai.


43.
कल का हर वाक़िआ तुम्हारा था,
आज की दास्ताँ हमारी है.

Kal Ka Har Vakiya Tumhara Tha,
Aaj Ki Dastan Hamari Hai.


44.
आँखों से आँसुओं के मरासिम पुराने हैं,
मेहमाँ ये घर में आएँ तो चुभता नहीं धुआँ.

Aankho Se Aansuo Ke Marasim Purane Hai,
Mehman Ye Ghar Aatye To Chubhta Nahi Dhua.


45.
यूँ तो हम अपने आप में गुम थे,
सच तो ये है की वहां भी तुम थे.

Yu To Ham Apane Aap Me Gum The,
Sach To Ye Hai Ki Vaha Tum The.


Gulzar Shayari On Smile

46.
शोर की तो उम्र होती हैं,
ख़ामोशी तो सदाबहार होती है.

Shor Ki To Umra Hoti Hai,
Khamoshi To Sadabahaar Hoti Hai.


इन्हें भी पढ़े :- Best 40+ ( करीब शायरी 2 लाइन ), Kareeb Status In Hindi

47.
वक़्त रहता नहीं कहीं टिक कर,
आदत इस की भी आदमी सी है.

Waqt Rahta Nahi Kahi Tik Kar,
Aadat Is Ki Bhi Aadami Si Hai.


Gulzar Shayari On Mohabbat

48.
कहू क्या वो बड़ी मासूमियत से पूछ बैठे है,
क्या सचमुच दिल के मारों को बड़ी तकलीफ़ होती है.

Kahu Kya Vo Badi Maasoomiyat Se Puchh Baithe Hai,
Kya Sachmuch Dil Ke Maaro ko Badi Takleef Hoti Hai.


49 1

49.
खाली कागज़ पे क्या तलाश करते हो ?
एक ख़ामोश-सा जवाब तो है.

Khali Kaagaj Pe Kya Talaash Karte Ho ?
Ek Khamosh-Sa Jawaab To Hai.


50.
तुम दिल मे रहो इतना ही बहुत है,
मुलाकात की हमे इतनी भी जरूरत नही.

Tum Dil Me Raho Itna Hi Bahut Hai,
Mulaqat Ki Hame Itani Bhi Jaroorat Nahi.


51.
ये रोटियाँ हैं ये सिक्के हैं और दाएरे हैं,
ये एक दूजे को दिन भर पकड़ते रहते हैं.

Ye Rotiya Hai Ye Sikke Hai Aur Dayre Hai,
Ye Hai Ek Duje Ko Din Bhar Pakadte rahte Hai.


52.
दिल अगर हैं तो दर्द भी होंगा,
इसका शायद कोई हल नहीं हैं.

Dil Agar Hai To Dard Bhi Hoga,
Iska Shayad Koi Hal Nahi Hai.


Gulzar Status In Hindi

53.
ज़िंदगी से वादा यूँ भी निभाना पड़ गया,
खुल के रोना चाहा था मुस्कुराना पड़ गया.

Zindagi Se Vada Yu Bhi Nibhana Pad Gaya,
Khul Ker Rona Chaha Tha Muskurana Pad Gaya.


Gulzar Shayari Love In Hindi

54.
सहम सी गयी है ख्वाइशे,
ज़रूरतों ने शायद उन से ऊँची आवाज़ में बात की होगी.

Saham Si Gayi Hai Shwahishe,
Jaroorato Se Shayad Un Se Uchi Aawaaz Me Baat Ki Hogi.


55.
एक बार तो यूँ होगा, थोड़ा सा सुकून होगा,
ना दिल में कसक होगी, ना सर में जूनून होगा.

Ek Baar To yu Hoga, Thoda Sa Sukoon Hoga,
Na Dil Me Kasak Hogi, Na Sir Me Junoon Hoga.


56.
सपने के टूटकर चकनाचूर हो जाने के बाद,
दूसरा सपना देखने के हौसले का नाम जिंदगी हैं.

Sapane Ke Tootkar Chaknachur Ho Jane Ke Baad,
Dusra Sapna Dekhne Ke Hausale Ka Naam Zindagi Hai.


Gulzar Shayari Love

57.
ये इश्क़ मोहब्बत की रिवायत भी अजीब है,
पाया नहीं है जिसको उसे खोना भी नहीं चाहते.

Ye Ishq Mohabbat Ki Rivaayat Bhi Ajeeb Hai,
Paya Nahi Hai Jisako Use Khina Bhi Nahi Chahte.


58.
धागे बड़े कमजोर चुन लेते हैं हम,
और फिर पूरी उम्र गांठ बंधने में ही निकल जाती है.

Dhage Bade Kamjor Chun Lete Hai Ham,
Aur Fir Puri Umra Gath Bandhne Me Hi Nikal Jati Hai.


Gulzar Shayari On Ishq

59.
गुजरा है हर लम्हा तेरी ही हसरत में,
अपने हिस्से का तो मैं अभी जिया ही नही.

Gujra Hai Har Lamha Teri Hi Hasrat Me,
Apane Hisse Ka To Mai Abhi Jiya Hi Nahi.


60

60.
तुम्हारी ख़ुश्क सी आँखें भली नहीं लगतीं,
वो सारी चीज़ें जो तुम को रुलाएँ, भेजी हैं.

Tumhari Khushk Si Aankhe Bhali Nahi Lagti,
Vo Sari Cheeje Jo Tum Ko Rulaye Bheji Hai.


इन्हें भी पढ़े :- Best 50+ ( तड़प शायरी 2 लाइन ), Tadap Status

61.
तारीफ अपने आप की करना फ़िज़ूल है,
खुश्बू खुद बता देती है कौन सा फूल है.

Tareef Apane Aap Ki Karna Fijul Hai,
Khushbu Khud Bata Deti Hai Kaun Sa Phool Hai.


62.
मैं चुप कराता हूँ हर शब उमडती बारिश को,
मगर ये रोज़ गई बात छेड़ देती है.

Mai Chup Karata Hu Har Shab Umadti Barish Ko,
Magar Ye Roz Gayi Baat Ched Deti Hai.


63

63.
दिन कुछ ऐसे गुज़ारता है कोई,
जैसे एहसान उतारता है कोई.

Din Kuch Aise Gujarta Hai Koi,
Jaise Ehsaas Utaarta Hai Koi.


Gulzar Shayari On Dosti

64.
शायर बनना बहुत आसान हैं,
बस एक अधूरी मोहब्बत की मुकम्मल डिग्री चाहिए.

Shayar Banana Bahut Aasaan Hai,
Bas Ek Adhuri Mohabbat Ki Mukammal Deggree Chahiye.


65.
रोई है किसी छत पे, अकेले ही में घुटकर,
उतरी जो लबों पर तो वो नमकीन थी बारिश.

Roi Hai Kisi Chat Pe, Akele Hi Me Ghutkar,
Utari Jo Labo Par To Vo Namkeen Thi Barish.


64.
ज़िन्दगी यूँ हुई बसर तन्हा,
काफिला साथ और सफ़र तन्हा.

Zindagi Yu Huyi Basar Tanha,
Kaafila Sath Aur Safar Tanha.


65.
फिर वहीं लौट के जाना होगा,
यार ने कैसी रिहाई दी है.

Fir Vahi Kaut Ke Jana Hoga,
Yaar Ne Kaisi Rihaayi Di Hai.


Gulzar Status

66.
तकलीफ़ ख़ुद की कम हो गयी,
जब अपनों से उम्मीद कम हो गईं.

Takleef Khud Ki Kam Ho Gayi,
Jab Apano Se Ummid Kam Ho Gayi.


67.
वो चीज़ जिसे दिल कहते हैं,
हम भूल गए हैं रख के कहीं.

Vo Cheez Jise Dil Kahte Hai,
Ham Bhool Gaye Hai Rakh Ke Kahi.


68.
वो चीज़ जिसे दिल कहते हैं,
हम भूल गए हैं रख के कहीं.

Vo Cheez Jise Dil Kahte Hai,
Ham Bhool Gaye Hai Rakh Ke Kahi.


Gulzar Shayari On Smile

69.
शोर की तो उम्र होती हैं,
ख़ामोशी तो सदाबहार होती हैं.

Shor Ki To umra Hoti Hai,
Khamoshi To Sadabahar Hoti Hai.


70

70.
रूह को भी मिल जाए ठिकाना
हाथ जिसका छूकर उसी हथेली पर घर बन जाये.

Rooh Ko bhi Mila Jaye Thikana,
Hath Jiska Chhukar Usi Hatheli Par Ghar Ban Jaye.


71.
दर्द की भी अपनी एक अदा है,
वो भी सहने वालों पर फ़िदा है.

Dard Ki Bhi Apani Ek Ada Hai,
Vo Bhi Sahane Valo Par Fida Hai.


72.
मैं दिया हूँ मेरी दुश्मनी तो सिर्फ अँधेरे से हैं,
हवा तो बेवजह ही मेरे खिलाफ हैं.

Mai Diya Hu Meri Dushmani To Sirf Andhere Se Hai,
Hava To Bewajah Hi Mere Khilaaf Hai.


73.
कभी तो चौक के देखे वो हमारी तरफ़,
किसी की आँखों में हमको भी वो इंतजार दिखे.

Kabhi To Chauk Ke Dekhe Vo Hamari Tareef,
Kisi Ki Aankho Me Hamko Bhi Vo intajaar Dikhe.


Gulzar Shayari On Khamoshi

Gulzar Shayari In Hindi For Facebook

74.
सुनो ज़रा रास्ता तो बताना,
मोहब्बत के सफ़र से वापसी है मेरी.

Suno Jara Rasta To Batana,
Mohabbat Ke Safar Me Vaapasi Hai Meri.


75.
आंखों से गिरा है पानी तो उसे गिरने दो,
शायद कोई पुरानी तमन्ना पिघल रही होगी.

Aankho Si Gira Hai pani To Use Girne Do,
Shayad Koi Purani Tamanna Pighal Rahi Hogi.


76

76.
ऐसा तो कभी हुआ नहीं,
गले भी लगे और छुआ भी नहीं.

Aisa To Kabhi Hua Nahi,
Gale Bhi Lage Aur Chhua Bhi Nahi.


77.
धागे बड़े कमजोर चुन लेते हैं हम,
और फिर पूरी उम्र गांठ बांधने में ही निकल जाती है.

Dhage Bade Kamjor Chun Lete Hai Ham,
Aur Fir Puri Umra Gaath Bandhne Me Hi Nikal Jati Hai.

Final Word :-

आशा करता हूँ कि आपको हमारा Gulzar Shayari In Hindi का पोस्ट जरुर पसंद आया होगा, इसी तरह के और शायरी या स्टेटस को पढ़ने के लिए आप हमारे और भी पोस्ट को एक बार जरूर देखे.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *