Dhoop Shayari | Best 20+ Dhoop Status, Subah Ki Dhoop Shayari

Dhoop Shayari के पोस्ट में आपको पढने को मिलेगा Dhoop Shayari In Hindi, Dhoop Shayari 2 Line, Dhoop Status In Hindi, Dhoop Status 2 Line के बेजोड़ कलेक्शन को, जहा पर आप शेरो-शायरियों के और भी मजे ले पाएंगे.

Dhoop Shayari

Dhoop Shayari In Hindi

1.
हाल पूछा न करे हाथ मिलाया न करे,
मैं इसी धूप में ख़ुश हूँ कोई साया न करे.

Haal Pucha Na Kare Hath Milaya Na Kare,
Mai Isi Dhoop Me Khush Hu Koi Saya Na Kare.


2.
हद ए शहर से निकली तो गावं गावं चली,
कुछ यादे मेरे संग पाव पाव चली,
सफर जो धुप का किया तो तजुर्बा हुआ,
वो ज़िन्दगी भी क्या जो छाव छाव चली.

Had Ae Shahar Se Nikali To Gaav Gaav Chali,
Kuch Yade Mere Sang Paav Paav Chali,
Safar Jo Dhoop Ka Kiya To Tajurba Hua,
Vo Zindagi Bhi Kya Jo Chaav Chaav Chali.


इन्हें भी पढ़े :- Best 40+ Saza Status In Hindi With Picture

3

3.
दर्द की शाम हो या सुख का सवेरा,
सब गवारा है मुझे बस साथ हो तेरा.

Dard Ki SHaam Ho Ya Sukh Ka Savera,
Sab Gavara Hai Mujhe Bas Sath Ho Tera.


4.
वक्त की ताकत रूहानी होती है,
सर्दी की धूप कितनी सुहानी होती है.

Waqt Ki Taakat Ruhaani Hoti Hai,
Sardi Ki Dhoop Kitni Suhaani Hoti Hai.


Dhoop Shayari In Hindi

5.
आज मेरे शहर में धूप खिली खिली सी है,
पता नहीं सूरज निकला है या घर से वो निकली है.

Aaj Mere SHahar Me Dhoop Khili Khili Si Hai,
Pata Nahi Suraj Nikla Hai Ya Ghar Se Vo Nikali Hai.


6.
धुप हैं किस्मत में लेकिन,
छाया भी कही तो होगी,
जहाँ मंजिले होगी अपनी,
कोई तो ऐसी ज़मीं होगी.

Dhoop Hai Kismat Me Lekin,
Chaya Bhi Kahi Ho Hogi,
Jaha Manzile Hogi Apani,
Koi To Aisi Jameen Hogi.


Dhoop Status In Hindi

7.
धूप में निकलो, घटाओं में नहाकर देखो,
ज़िन्दगी क्या है किताबों को हटाकर देखो. निदा फ़ाज़ली

Dhoop Me Nikalo, Ghataao Me Nahaakar Dekho,
Zindagi Kya Hai Kitaabo Ko Hataakar Dekho.


Dhoop Status In Hindi

8.
धूप से सर्दियों में ख़फ़ा कौन है,
उन दरख़्तों के नीचे खड़ा कौन है.

Dhoop Se Sardiyo Me Khafa Kaun Hai,
Un Darakhto Ke Niche Khada Kaun Hai.


9.
चल रहा हूँ धूप में तो महाकाल तेरी छाया है,
शरण है तेरी सच्ची बाकी तो सब मोह माया है.

Chal Raha Hu Dhoop Me To Mahakal Tera Chaya Hai,
Sharan Hai Teri Sachhi Baki To Sab Moh Maya Hai.


10.
वक़्त की हो धूप या तेज़ हो आँधियाँ,
कुछ क़दमों के निशाँ कभी नहीं खोते,
जिन्हें याद करके मुस्कुरा दें ये आँखें,
वो लोग दूर होकर भी दूर नहीं होते.

Waqt Ki Ho Dhoop Ya Tez Ho Aandhiya,
Kuch Kadmo Ke Nishaan Kabhi Nahi Khote,
Jinhe Yaad Karke Muskura De Ye Aankhe,
Vo Log Dur Hokar Bhi Dur Nahi Hote.


Dhoop Status 2 Line

Dhoop Status 2 Line

11.
दीवार उन के घर की मिरी धूप ले गई,
ये बात भूलने में ज़माना लगा मुझे. असग़र मेहदी होश

Deevar Un Ke Ghar Ki Meri Dhoop Le Gayi,
Do Baat Bhoolane Me Jamana Laga Mujhe.


इन्हें भी पढ़े :- Best 20+ Haseen Status In Hindi Images

12.
आसान नहीं होता है घर को चलाना,
चिलचिलाती धूप में भी बदन को जलाना.

Aasaan Nahi Hota Hai Ghar Ko Chalana,
Chilchilaati Dhoop Me Bhi Badan Ko Jalana.


13.
कामयाबी के सफ़र में धूप बड़ी काम आयी,
छाँव अगर होती तो कब के सो गये होते.

Kamyabi Ke Safar Me Dhoop Badi Kaam Aayi,
Chaav Agar Hoti To Kab Ke So Gaye Hote.


Dhoop Shayari 2 Line

14.
चल पड़ी राह में दर्द का नगमा लेकर,
जल रही धूप में बारिश का सपना लेकर.

Chal Padi Raah Me Dard Ka Nagma Lekar,
Jal Rahi Dhoop Me Bhi Barish Ka Sapna Lekar.


Sardiyon Ki Dhoop Shayari

15.
ये कांटे, ये धूप, ये पत्थर इनसे कैसा डरना है,
राहें मुश्किल हो जाएँ तो छोड़ी थोड़ी जाती हैं.

Ye Kaate, Ye Dhoop, Ye Patthar Inase Kaisa Darna Hai,
Raahe Mushkil Ho jaye To Chodi Thodi Jati Hai.


16.
धूप को साया ज़मीं को आस्मां करती है माँ,
हाथ रखकर मेरे सर पर सायाबां करती है माँ.

Dhoop Ko Saya Jameen Ko Aasmaan Karti Hai Maa,
Hath Rakhkar Mere Sar Par Sayabaan Karti Hai Maa.


Sardiyon Ki Dhoop Shayari

17.
रुके तो चाँद चले तो हवाओं जैसा है,
वो शख्स धूप में भी छाँव जैसा है.

Ruke To Chaand Chale To Havaao Jaisa Hai,
Vo Shakhs Dhoop Me Chaav Jaisa Hai.


18.
गर्मी में जो धूप जलाती है,
सर्दी में वही दवा बन जाती है.

Garmi Me Jo Dhoop Jalaati Hai,
Sardi Me Vahi Dava Ban Jati Hai.


19.
ग़ुर्बत की ठंडी छाँव में याद आई उस की धूप,
क़द्र-ए-वतन हुई हमें तर्क-ए-वतन के बाद.

Gurbat Ki Thandi Chaav Me Yaad Aayi Us Ki Dhoop,
Kadra-Ae-Vatan Huyi Hame Tark – Ae-Vatan Ke Baad.


Subah Ki Dhoop Shayari

20.
मैं हर रात सारी ख्वाहिशों को,
खुद से पहले सुला देता हूं¸
हैरत की बात तो यह है कि,
हर सुबह यह मुझसे पहले जाग जाती है.

Mai Har Raat Sari Khwaahishho Ko,
Khud Se Pahle Sula Deta Hu,
Hairat Ki Baat To Yah Hai Ki,
Har Subah Yah Mujhase Pahle Jaag Jati Hai.


इन्हें भी पढ़े :- Best 30+ Qatl Shayari Hindi ( क़त्ल पर शायरी )

21.
अंदाज़ जरा हट के औरों से,
ज़िन्दगी हमें यही बताती,
जिनकी वाणी में मिठास होती,
सूरज की धूप उन्हें कभी नहीं सताती.

Andaz Jara Hat Ke Auro Se,
Zindagi Hame Yahi Bataati,
Jinaki Vaani Me Mithaas Hoti,
Suraj Ki Dhoop Unhe Kabhi Nahi Sataati.


22.
धूप भी आराम करती थी जहाँ,
अपना ऐसी छाँव से नाता रहा.

Dhoop Bhi Aaraam Karti Thi Jaha,
Apana Aisi Chaav Se Nata Raha.


Sunehri Dhoop Shayari

23.
तेरी यादों की धूप आने लगी है,
अभी खुल जायेगा मौसम हमारा.

Teri Aankho Ki Dhoop Aane Lagi Hai,
Abhi Khul Jayega Mausam Hamara.

Final Word :-

आशा करता हु कि आपको हमारा Dhoop Shayari का पोस्ट जरुर पसंद आया होगा, इसी तरह के और शायरियों को पढ़ने के लिए आप हमारे और भी पोस्ट को जरुर पढ़े.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *