Aag Shayari | Best 30+ Aag Status In Hindi ( आग शायरी 2 लाइन )

Aag Shayari के पोस्ट में आपको पढने को मिलेगा Aag Shayari In Hindi, Aag Shayari 2 Line, Aag Status In Hindi, Aag Status 2 Line के बेजोड़ कलेक्शन को, जहा पर आप शेरो-शायरियों के और भी मजे ले पाएंगे.

Aag Shayari

1.
वो जो आग बने फिरते थे,
उन्हें भी ख़ाक होते देखा है मैंने.

Vo Jo Aag Bane Firte The,
Unhe Bhi Khaak Hoite Dekha Hai Maine.


Aag Shayari In Hindi

2.
कुछ लोग है जो हमको आग समझते है,
और हम है कि जुगनुओं को भी चराग समझते हैं.

Kuch Log Hai Jo Hamko Aag Samajhte Hai,
Aur Ham Hai Ki Jugnuo Ko BhI Charaag Samajhte Hai.


इन्हें भी पढ़े : Aaj Shayari | Best 60+ ( आज शायरी 2 लाइन ) Aaj Status In Hindi

3.
दिल के फफोले जल उठे सीने के दाग से,
इस घर को आग लग गई घर के चिराग से.

Dil Ke Fafole Jal Uthe Seene Ke Daag Se,
Is Ghar Ko Aag Lag Gayi Ghar Ke Chiraag Se.


4.
हमारी नफरतों की आग में सब कुछ न जल जाये,
की इस बस्ती में हम दोनों को आइंदा भी रहना है. मेराज फैजाबादी

Hamari Nafrato Ki Aag Me Sab Kuch Na Jal Jaye,
Ki Is Basti Me Ham Dono Ko Aainda Bhia Rahna Hai.


Aag Shayari In Hindi

Aag Par Shayari In Hindi

5.
आग लगाने वालों को कहाँ खबर है,
रूख हवाओं ने बदला तो ख़ाक वो भी होंगे.

Aag Lagane Valo Ko Kaha Khabar Hai,
Rukh Hawaao Ne Badla To Khaak Vo Bhi Honge.


6.
उसकी यादों में जलना भी एक बीमारी है,
मोहब्बत की आग से बचने में ही समझदारी है.

Usaki Yado Me Jalna Bhi Ek Bimari Hai,
Mohabbat Ki Aag Se Bachne Me Hi Samajhdari Hai.


Aag Status In Hindi

7.
लगेगी आग तो आएँगे घर कई ज़द में,
यहाँ पे सिर्फ़ हमारा मकान थोड़ी है.

Lagegi Aag To Aayenge Ghar Kai Jad Me,
Yaha Pe Sirf Hamara Makaan Thodi Hai.


Aag Status In Hindi

8.
आग को खेल पतंगों ने समझ रखा है,
सबको अंजाम का डर हो ये ज़रूरी तो नहीं.

Aag Ko Khel Patango Ne Samajh Rakha Hai,
Sabako Anjaam Ka Dar Ho Ye Jaroori To Nahi.


9.
इश्क़ से किसके दिल को लाग नहीं,
कौन सा घर है जिसमे आग नहीं. – नशिख

Ishq Sen Kisake Dil Ko Laag Nahi,
Kaun Sa Ghar Hai Jisame Aag Nahi.


Aag Status 2 Line

10.
होते जो करीब तो मैं राख हो जाता,
अच्छा हुआ जो आग से फासला ही रहा.

Hote Jo Kareeb To Mai Raakh Ho Jata,
Achha Hue Jo Aag Se Fasla Hi Raha.


इन्हें भी पढ़े :Best 40+ Shaam Status, Shaam Gulabi Shayari

11.
चलो आज फिर थोडा मुस्कुराया जाये,
बिना माचिस के कुछ लोगो को जलाया जाये.

Chalo Aaj Fir Tjoda Muskuraya Jaye,
Bina Machis Ke Kuch Logo Ko Jalana Jaye.


Aag Status 2 Line

12

12.
चूमकर तुम्हारे लबों को पता चला,
आग और पानी का साथ कैसा होता हैं.

Chumkar Tumhare Labo Ko Pata Chala,
Aag Aur Paani Ka Sath Kaisa Hota Hai.


13.
आग लगी थी मेरे घर को,
किसी सच्चे दोस्त ने पूछा क्या बचा है,
मैने कहा मैं बच गया हूँ,
उसने गले लगाकर कहा फिर जला ही क्या है.

Aag Lagi Thi Mere Ghar Ko,
Kisi Sachhe Dost Ne Pucha Kya Bacha Hai,
Maine Kaha Mai Bach Gaya Hu,
Usane Gale Lagaakar Kaha Fir Jala Hi Kya Hai.


14.
ये इश्क़ नहीं आसान बस इतना समझ लीजिये,
इक आग का दरिया है और डूब के जाना है.

Ye Ishq Nahi Aasaan Bas Itna Samajh Lijiye,
Ek Aag Ka Dariya Hai Aur Doob Ke Jana Hai.


Aag Shayari 2 Line

15.
आज खुद को आग लगा दी है,
देखूँ तो जरा कौन पानी कौन घी है.

Aaj Khud Ko Aag Laga Di Hai,
Dekhu To Jara Kaun Paani Kaun Ghee Hai.


Aag Shayari In Urdu

16.
आग कहीं भी लग सकती है इस बरसात के मौसम में,
बादल की आँखों से टपका हर आंसू अंगारा है. – सलीम अश्क

Aag Kahi Bhi Lag Sakti Hai Is Barsaat Ke Mausam Me,
Badal Ki Aankho Se Tapka Har Aansoo Angara Hai.


17.
ये बात जान के हैरत नहीं हुई मुझको,
की मेरी आग से रोशन रहा सितारा मेरा.

Ye Baat Jaan Ke Hairat Huyi Mujhako,
Ki Meri Aag Se Roshan Raha Sitara Mera.


Aag Shayari In Urdu

18.
दिल से तेरी याद मिटाऊं कैसे,
इस घर में खुद आग लगाऊं कैसे.

Dil Se Teri Yaad Mitaau Kaise,
Is Ghar Me Khud Aag Lagaau Kaise.


19

19.
आग का क्या है पल दो पल में लगती है,
लेकिन बुझते बुझते एक जमाना लगता है.

Aag Ka Kya Hai Pal Do Pal Me Lagti Hai,
Lekin Bujhate Ek Jamana Lagta Hai.


इन्हें भी पढ़े :Best 50+ Raat Status In Hindi With Images

20.
झुलसा बदन है देख के नफरत न कीजिये,
मैं दूसरों की आग बुझाने में जल गया.

Jhulsa Badan Hai Dekh Ke Nafrat Na Kijiye,
Mai Dusaro Ki Aag Bujhane Me Jal Gaya.


21.
आग लगाना मेरी फितरत में नहीं है,
मेरी सादगी से लोग जले तो मेरा क्या कसूर.

Aag Lagana Meri Fitrat Me Nahi Hai,
Meri Saadagi Se Log Jale To Mera Kya Kasoor.


बदले की आग शायरी

22.
तू अगर आग है तो मैं,
तुझे जलाने वाली माचिस हूं.

Tu Agar Aag Hai To Mai,
Tujhe Jalaane Vali Machis Hu.


बदले की आग शायरी

23.
दिल जला है तो फिर आँखों में पानी क्यों हैं,
राख में उड़ती हुई तेरी मेरी कहानी क्यों हैं.

Dil Jala Hai To Fir Aankho Me Pani Kyo Hai,
Raakh Me Udati Huyi Teri Meri Kahaani Kyo Hai.


24.
कब तक वो मेरा होने से इंकार करेगा,
खुद टूट कर वो एक दिन मुझसे प्यार करेगा,
प्यार की आग में उसको इतना जला देंगे,
कि इजहार वो मुझसे सरे-बाजार करेगा.

Kab Tak Vo Mera Hone Se Inkaar Karega,
Khud Toot Kar Vo Ek Din Mujhase Pyaar Karega,
Pyaar Ki Aag Me Usako Itna Jala Denge,
Ki Ijhaar Vo Mujhase Sare-Bazar Karega.


आग बुझाने वाली शायरी

25.
मेरा दिल मोम सा,
उसके इरादे आग से.

Mera Dil Mom Sa,
Ussake Iraade Aag Se.


आग बुझाने वाली शायरी

26.
न धुँआ उठा न आग लगी,
और वो जल गये मेरे जीने के अंदाज से.

Na Dhuaa Utha Na Aag Lagi,
Aur Vo Jal Gaye Mere Jeene Ke Andaz Se.


27.
भीगते रहे दोनों जलती हुई रात में,
किसने आग लगाई आज बरसात में.

Bhigte Rahe Dono Jalto Huyi Raat Me,
Kisane Aag Lagayi Aaj Barsaat Me.


28.
लगाई तो थी आग उसकी तस्वीर में रात को,
सुबह देखा तो मेरा दिल छालों से भरा पड़ा था.

Lagayi Yhi Aag Usaki Tasveer Me Raat Ko,
Subah Dekha To Mera Dil Chaalo Se Bhara Pada Tha.


आग लगाने वाले स्टेटस

29.
यूँ ही तो नहीं भड़की ये आग मोहब्बत की,
तुमने भी तो कुछ अपने दामन से हवा दी है.

Yu Hi Nahi Bhadki Ye Aag Mohabbat Ki,
Tumane Bhi To Kuch Apane Daaman Se Hawa Di Hai.


इन्हें भी पढ़े : Best 40+ Shahar Status Hindi ( शहर शायरी )

30.
हमारी अफ़वाह के धुंए वहीं से उठते हैं,
जहाँ हमारे नाम से आग लग जाता हैं.

Hamari Afwaah Ke Dhuye Vahi Se Uthate Hai,
Jaha Hamare Naam Se Aag Lag Jata Hai.


31.
होठों के छुअन का एहसास अब तक है,
इन साँसों में अजीब सी आग अब तक है.

Hotho Ke Chhuan Ka Ehsaas Ab Tak Hai,
Is Saanso Me Ajeeb Si Aag Ab Tak Hai.


32.
आज तुझे बेहिसाब जलाने का इरादा है,
मेरा समन्दर में आग लगाने का इरादा हैं.

Aaj Tujhe Behisaab Jalaane Ka Iraada Hai,
Mera Samundar Me Aag Lagaane Ka Irada Hai.


Aag Par Shayari In Hindi

33.
पूरी दुनिया नफरतों की आग में जल रही,
फिर भी ना जाने क्यों लोगो को ठंड लग रही.

Puri Duniya Nafrato Ki Aag Me Jal Rahi Hai,
Fir Bhi Na Jane Kyo Logo Ko Thand Lag Rahi.


34.
कश्मीर की वादी में बेपर्दा जो निकले हो,
क्या आग लगाओगे बर्फीली चट्टानों में.

Kashmir Ki Vaadi Me Beparda Jio Nikale Ho,
Kya Aag Lagaaoge Barfile Chattano Me.


35.
मंजर ही हादसे का अजीबो गरीब था,
वो आग से जल गया जो नदी के करीब था.

Manjar Hi Haadase Ka Ajeebo Gareeb Tha,
Vo Aag Se Jal Gaya Jo Nadi Ke Kareeb Tha.

Final Word :-

आशा करता हूँ कि आपको हमारा Aag Shayari का पोस्ट जरुर पसंद आया होगा, इसी तरह के और शायरियों को पढ़ने के लिए आप हमारे और भी पोस्ट को जरुर पढ़े.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *